Value Of Books Essay In Hindi

निबंध नंबर : 01 

पुस्तकों का महत्व

पुस्तकें : हमारी मित्र – पुस्तकें हमारी मित्र हैं | वे अपना अमृत-कोष सदा हम पर न्योछावर करने को तैयार रहती हैं | अच्छी पुस्तकें हमें रास्ता दिखाने के साथ-साथ हमारा मनोरंजन भी करती हैं | बदले में वे हमसे कुछ नहीं लेतीं, न ही परेशान या बोर करती हैं | इससे अच्छा और कौन-सा साथी हो सकता है कि जो केवल कुछ देने का हकदार हो, लेने का नहीं |

पुस्तकें : प्रेरणा का स्त्रोत – पुस्तकें प्रेरणा की भंडार होती हैं | उन्हें पढ़कर जीवन में कुछ महान कर्म करने की भावना जागती है | महात्मा गाँधी को महान बनाने में गीता, टालस्टाय और थोरो का भरपूर योगदान था | भारत की आज़ादी का संग्राम लड़ने में पुस्तकों की भी महत्वपूर्ण भूमिका थी | मैथलीशरण गुप्त की ‘भारत-भारती पढ़कर कितने ही नौजवानों ने आज़ादी के आदोंलन में भाग लिया था |

पुस्तकें : विकास की सूत्रधार – पुस्तकें ही आज की मानव-सभ्यता के मूल में हैं | पुस्तकों के दुवारा एक पीढ़ी का ज्ञान दूसरी पीढ़ी तक पहुँचते-पहुँचते सरे युग में फ़ैल जाता है | विपिल महोदय का कथन है – “पुस्तकें प्रकाश-गृह हैं जो समयह के विशाल समुद्र में खड़ी की गई हैं |” यदि हज़ारों वर्ष पूर्व के ज्ञान को पुस्तकें अगले युगतक न पहुँचती तो शायद एक वैज्ञानिक सभ्यता का जन्म न होता |

प्रचार का साधन – पुस्तकें किसी भी विचार, संस्कार या भावना के प्रचार का सबसे शक्तिशाली साधन हैं | तुलसी के ‘रामचरितमानस’ ने तथा व्यास-रचित महाभारत ने अपने युग को तथा आने वाली श्तब्दियों की पूरी तरह प्र्भाभित किया | आजकल विभिन्न सामाजिक आंदोलन तथा विविध विचारधाराएँ अपने प्रचार-प्रसार के लिए पुस्तकों को उपयोगी अस्त्र के रूप में अपनाती हैं |

मनोरंजन का साधन  – पुस्तकें मानव के मनोरंजन में भी परम सहायक सिद्ध होती हैं | मनुष्य अपने एकांत क्षण पुस्तकों के साथ गुजार सकता है | पुस्तकों के मनोरंजन में हम अकेले होते हैं, इसलिए मनोरंजन का आनंद और अधिक गहरा होता है | इसलिए किसी ने कहा है – “पुस्तकें जागत देवता है | उनकी सेवा करके तत्काल वरदान प्राप्त किआ जा सकता है |”

 

निबंध नंबर : 02 

 

पुस्तकों का महत्व

पुस्तकों में हमें ज्ञान की प्राति होती है। पुस्तकों के माध्यम से हम तरह-तरह की बातें जान सकते हैं। अच्छी पुस्तकें हमारे लिए बहुत लाभदायक होती है। इस प्रकार की पुस्तकों में हमें अच्छी और नई-नई बातों की जानकारी मिलती है, हमारा ज्ञान बढ़ता है। अच्छी पस्तकें सबसे अच्छी दोस्त होती है। मैं हमेशा अच्छी पुस्तकें पढ़ता हूं।

वैसे तो मैंने बहुत सारी पुस्तकें पढ़ी हैं, किंतु ‘रामचरितमानस’ ने मुझे अत्याधिक प्रभावित किया है। यह एक धार्मिक ग्रंथ ही नहीं वरन साहित्यिक ग्रंथ भी है। प्रत्येक हिंदू इस ग्रंथ की देवता की तरह पूजा करता है। यह एक काव्य-ग्रंथ है, जो अवधी भाषा में लिखा गया है। इसमें चौपाई और दोहे हैं, जिन्हें गाया भी जाता है। इसके रचयिता गोस्वामी तुलसीदास हैं। हिंदी साहित्य में उनका उल्लेखनीय स्थान है। वे रामभक्त कवि थे। इस पवित्र पुस्तक ने मुझे इतना अधिक प्रभावित किया है कि मैं इसका वर्णन नहीं कर सकता। यह एक सरल पुस्तक है। इसकी भाषा सरल है। यह एक बहुमूल्य और आदर्श पुस्तक है। इस पुस्तक में हमें आध्यात्मिक ज्ञान, कर्तव्य-पालन, बड़ों का सम्मान तथा मुसीबत में धैर्य रखने की शिक्षा मिलती है।

प्रत्येक छात्र को अच्छी और शिक्षाप्रद पुस्तकों का अध्ययन करना चाहिए। इससे विद्यार्थियों के चरित्र-निर्माण पर गहरा असर पड़ता है। इस पुस्तक को पढऩे से धर्म के मार्ग पर चलने की सीख मिलती है। इसलिए मेरी दृष्टि में ‘रामचरितमानस’ बहुत ही अच्छी पुस्तक है। ‘रामचरितमानस’ में मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के चरित्र का वर्णन है। राम एक आदर्श पुरुष थे। वे चौदह वर्ष तक लक्ष्मण व सीताजी सहित वन में रहे। वे एक आदर्श राजा थे। उन्होंने प्रजा की बातों को बहुत महत्व दिया। राम का शासनकाल आदर्शपूर्ण था, इसलिए उनका शासन ‘राम राज’ कहलाता है। सीता एक आदर्श नारी थीं। लक्ष्मण की भातृभक्ति प्रशासंनीय है।

June 17, 2016evirtualguru_ajaygourHindi (Sr. Secondary), Languages15 CommentsHindi Essay, Hindi essays

About evirtualguru_ajaygour

The main objective of this website is to provide quality study material to all students (from 1st to 12th class of any board) irrespective of their background as our motto is “Education for Everyone”. It is also a very good platform for teachers who want to share their valuable knowledge.

आज की इस दुनिया में हम सच्चाई से नहीं भाग सकते। यदि आज आप एक प्रभावशाली लीडर बनना चाहते हो तो आपको पढ़ने के फायदे – Reading benefits को जानना ही होंगा और अपनी बुद्धि को विकसित करना ही पड़ेंगा।

लोग न पढने का सबसे आसान कारण समय का ना होना ही बताते हैं। लेकिन अगर आप इसपर थोडा सोचोंगे तो आप जान जाओंगे की आप कितना समय उन कामो को करने में गवा रहे हैं। जो आपके लिये कोई मायने नही रखते। इसलिए कुछ भी हो जाये हर रोज थोडा समय Books पढ़ने के लिए निकालो। में आपको इस लेख में कुछ Reading पर tips बताने जा रहा।

क़िताबे पढ़ने के फ़ायदे – Books reading benefits Hindi

Books reading benefits:

  1. पढने की आदत आपके दिमाग को हमेशा युवा बनाकर रखती हैं।
  2. पढ़नें की आदत आपके vocabulary में improvement करती हैं।
  3. पढ़नें की आदत आपको आपके life goal को प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित करती हैं।
  4. यह आपको और ज्यादा समझदार बनती हैं।
  5. पढ़नें की आदत आपको नयी-नयी चीजें सिखाती हैं। और आपको आपके दोस्तों से एक कदम आगे रखती हैं।
  6. तो पढ़कर अपनी लीडरशिप की काबिलियत को बढ़ाने के आसान उपाय कौनसे हो सकते है?

इसे और आसन कैसे बनाये?

कुछ अच्छे लेखको को ढूंडीये। लेखक जैसे शिव खेरा, चेतन भगत, पीटर ड्रकर, और स्वेट मॉर्डन दुनिया के सबसे आकर्षित और प्रसिद्ध लेखको में से एक है उन्हें पढ़कर आप कभी भी गलत रास्तो पर नही जा सकते। एक समय में किसी भी एक लेखक का चुनाव करे और उन्ही के सिद्धांतो पर चलने की कोशिश करे और उन्हें ही पढ़ते रहिये। मै दावे के साथ कह सकता हु की इससे आपको बहुत ख़ुशी मिलेंगी।

कुछ अच्छे ब्लॉग को ढूंडीये। हमें आज की इस दुनिया में महान लोगो और लीडर्स द्वारा लिखे गए बहुत ही प्रभावशाली ब्लॉग आसानी से मिल जाते है।

थोडा अभ्यास करे अपने दिमाग को विकसित करने का यह सबसे बेहतर तरीका है। इसके लिये आपको MBA करने की जरुरत नही है बल्कि इसके लिये आप लीडरशिप, मैनेजमेंट या पर्सनल डेवलपमेंट पर आधारित कोई भी छोटा-मोटा कोर्स कर सकते हो।

कुछ समय को अलग रख दे। अपने व्यस्त कार्यक्रमों में से पढने को निकाल फेंकना बहुत ही आसान है लेकिन अगर आप एक महान लीडर बनना चाहते हो तो आपको अपने दिन में से कुछ समयपढ़ने को भी देना होंगा। फिर चाहे आप समय सुबह का दो, शाम का दो या फिर लंच ब्रेक का दो। यह आप पर निर्भर करता है की आप किस समय में पढना पसंद करते हो।

हममे से कुछ लोग ट्रेन से अक्सर आना-जाना करते हैं इसीलिए अपने यही पढना उचित होंगा, इससे हम इस समय का अच्छा-खासा उपयोग भी कर सकते हैं।

स्थानिक लाइब्रेरी में जाया करे। वहाँ वो सारी किताबे होती हैं जिन्हें हम खरीदना चाहते हैं। इसीलिए अक्सर किताबो को खरीदने की बजाये पैसो को बचाकर लाइब्रेरी में जाकर पढना कभी भी अच्छा।

किंडल खरीद लीजिये। खोजकर्ताओ के अनुसार जो लोग किंडल का उपयोग करते है वे लोग किंडल का उपयोग ना करने वाले लोगो से तीन गुना ज्यादा पढ़ते है।


पढने के लिये उपर दिये गए कुछ उपाय निश्चित ही आपको काम आयेंगें लेकीन एक सबसे महत्वपूर्ण बात यही है की पढने के लिये आपको कारण बनना छोड़ना होंगा। अपने दिमाग को आपको रोज़ पढने की आदत लगानी होंगी। तभी आप एक बेहतर लीडर बन पाओंगे।

कुछ किताबे जो आपको जरुर पढ़नी चाहियें:

If you like Self Development in Hindi then more article for you.

  1. The secret book – रहस्य – द सीक्रेट
  2. 10 Best Motivational books
  3. Success steps and tips
  4. सफलता के लिये ज्ञान की बाते
  5. 5 प्रेरणादायक जीवन मंत्र
  6. लक्ष्य कैसे निश्चित करे
  7. Self Confidence

Note: अगर आपको क़िताबे पढ़ने के फ़ायदे / Books reading benefits Hindi अच्छी लगे तो जरुर Share कीजिये।
Note: E-MAIL Subscription करे और पायें Books reading benefits Hindi and more personality development article आपके ईमेल पर।

Gyani Pandit

GyaniPandit.com Best Hindi Website For Motivational And Educational Article... Here You Can Find Hindi Quotes, Suvichar, Biography, History, Inspiring Entrepreneurs Stories, Hindi Speech, Personality Development Article And More Useful Content In Hindi.

0 Thoughts to “Value Of Books Essay In Hindi

Leave a comment

L'indirizzo email non verrà pubblicato. I campi obbligatori sono contrassegnati *